आखिर क्यों इस देश के सभी पुरुष मिनी स्कर्ट पहनकर स्कूल, कालेज और आफिस जा रहे हैं?

ताइपे, (मैट्रो नेटवर्क)। ताइवान में इन दिनों पुरुष स्कर्ट पहन रहे हैं और यह खबर दुनियाभर में सुर्खियां बटोर रही है। इस पूरे हफ्ते ताइवान में पुरुष स्कर्ट पहन कर स्कूल, कॉलेज और ऑफिस जाएंगे। दरअसल पुरुष ऐसा करके लैंगिक असमानता को तोडऩे और वैवाहिक समानता के लिए अपनी आवाज उठा रहे हैं। यह बात भी गौर करने वाली है कि ताइवान में 24 मई को सेम सेक्स मैरिज पर एक अहम वोटिंग होनी है। ताइवान की संसद इस बात पर बंटी हुई है कि सेम सेक्स मैरिज को मंजूरी दी जाए या फिर नहीं।
सोशल मीडिया साइट्स पर स्कर्ट में पुरुषों की फोटोग्राफ्स को शेयर किया जा रहा है। इसके अलावा फेसबुक ग्रुप है जिस पर लोगों को ‘पुट ऑन योर मिनी स्कर्ट’ यह कह कर स्कर्ट पहनने के लिए प्रेरित किया जा रहा है। नेशनल ताइवान यूनिवर्सिटी और हाई स्कूल की ओर से इस तरह की कई फोटोग्राफ्स शेयर की जा रही हैं जिनमें कई पुरुष यहां तक कि कंपनी के इंप्लॉईज तक बिना झिझक स्कर्ट पहने हुए नजर आ रहे हैं।
ताइवान की कोर्ट ने मई 2017 में आदेश दिया था कि सेम सेक्स कपल्स के पास भी कानूनी तौर पर शादी करने का अधिकार है। कोर्ट ने इसके साथ ही इसे कानूनी जामा पहनाने के लिए दो वर्ष तक की समय-सीमा तय की थी। अगर 24 मई को ताइवान की संसद में सेम सेक्स मैरिज पर बिल पास हो जाता है तो फिर ताइवान एशिया का वह पहला देश बन जाएगा जहां पर सेम सेक्स मैरिज को मंजूरी दी जाएगी।
स्कूल में मिनी स्कर्ट पहनकर आए एक टीचर ने बताया कि फुटबॉल खेलते हुए बहुत सारे स्टूडेंट्स ने उनसे कहा कि उन्होंने जो भी पहना हुआ है, वह वाकई बहुत अजीब है। इस पर उन्होंने जवाब दिया कि उन्हें इस तरह के कपड़े पहनना पसंद है। इसलिए वह अपना मन नहीं मार सकते थे। टीचर के मुताबिक सभी लोग लैंगिक असामनता को तोड़ सकते हैं। ताइवान में आने वाले बिल पर वोटिंग को लेकर एलजीबीटी समुदाय में काफी चिंताएं हैं।
पिछले वर्ष एक जनमत संग्रह हुआ था। इस जनमत संग्रह में दो तिहाई लोगों ने वैवाहिक समानता का विरोध किया था। उन्होंने कहा था कि देश में इस बात को परिभाषित किया जाए कि शादी एक महिला और एक पुरुष के बीच होती है। न्यू ताइपे म्यूनिसिपल बैनकियाओ सीनियर हाई स्कूल के छात्रों ने स्कर्ट को लेकर चलाए जा रहे कैंपेन के समर्थन में अपनी राय फेसबुक पर पोस्ट की। इन छात्रों के हेड टीचर लाइ छुनजिन का कहना है कि वे रूढि़वादी विचारधाराओं को तोडऩा चाहते हैं और साथ ही हर किसी का सम्मान करना चाहते हैं। इसके साथ ही उन्होंने अनुरोध किया कि लोग उनकी स्कर्ट वियरिंग टीम को ज्वॉइन करें।

You May Also Like