एल्बी मोर्केल ने क्रिकेट के सभी प्रारूपों को अलविदा कहा

जोहान्सबर्ग, (मैट्रो नेटवर्क)। दक्षिण अफ्रीका के पूर्व तेज गेंदबाज मोर्ने मोर्केल के बाद अब उनके बड़े भाई एल्बी मोर्केल ने भी क्रिकेट को अलविदा कह दिया है। पिछले साल अप्रैल ने मोर्ने मोर्केल ने क्रिकेट से संन्यास ले लिया था और अब एल्बी ने भी संन्यास की घोषणा कर दी। एल्बी ने 2004 में क्रिकेट में कदम रखा था और दक्षिण अफ्रीका के लिए 100 से ज्यादा वनडे और टी20 मैच खेले। वनडे में उनका सर्वोच्च स्कोर जिम्बाब्वे के खिलाफ खेली गई 97 रन की पारी रही। ऑलराउंड प्रदर्शन के दम पर ही वह आईपीएल के सबसे महंगे खिलाडिय़ों में से एक रहे।
एल्बी को सफेद गेंद का खिलाड़ी माना जाता है। लेकिन फस्र्ट क्लास क्रिकेट में उन्होंने बल्ले और गेंद दोनों से ही बेहतर प्रदर्शन किया। उन्होंने करियर में सिर्फ एक टेस्ट खेला जिसमें ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ एक पारी में 58 रन बनाए थे। एल्बी ने संन्यास की घोषणा करते हुए कहा कि यह समय आ गया है कि मैं क्रिकेट का मैदान छोड़ दूं और मैं संन्यास की घोषणा करता हूं। मेरी जिंदगी के पिछले 20 साल बेहतरीन यादों के साथ अद्भुत रहे। मैंन जैक्स फॉल और सभी का शुक्रिया अदा करना चाहता हूं, जिन्होंने मुझे मेरे सपने को जीने के लिए मौके दिए। क्रिकेट के मैदान को छोडऩे के बाद मोर्केल नए मौकों की ओर जा रहे हैं और उन्होंने कहा कि अब वह खेल का आनंद बाउंड्री के उस पार से लेंगे।

You May Also Like