आलोक वर्मा ने दिया इस्तीफा, फायर एंड सेफ्टी के डीजी के तौर पर नहीं ली जिम्मेदारी

नई दिल्ली, (मैट्रो नेटवर्क)। पूर्व सीबीआई प्रमुख आलोक वर्मा ने अपनी नौकरी से इस्तीफा दे दिया है। यह जानकारी मीडिया में नशर हुई है। इससे पहले उन्होंने फायर एंड सेफ्टी के डीजी के तौर पर नई जिम्मेदारी लेने से मना कर दिया था। उन्हें एक दिन पहले ही सीबीआई प्रमुख के पद से हटाया गया था और उनका ट्रांसफर फायर एंड सेफ्टी के डीजी के तौर पर किया गया था। आलोक वर्मा को पद से हटाये जाने से 2 दिन पहले सुप्रीम कोर्ट ने केंद्र सरकार के उस फैसले को खारिज कर दिया था जिसमें उन्हें छुट्टी पर भेजने के लिए कहा गया था।
हालांकि सीबीआई के डिप्टी निदेशक नागेश्वर राव को एजेंसी का अंतरिम निदेशक नियुक्त किया है। राव ने वो सारे ट्रांसफर ऑर्डर रद्द कर दिए जो वर्मा ने जारी किए थे।
सीबीआई डायरेक्टर आलोक वर्मा को गुरुवार को उनके पद से हटा दिया गया था। यह फैसला प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की अध्यक्षता में हुई हाई पावर तीन सदस्यीय चयन समिति में लिया गया था। चयन समिति में पीएम मोदी के साथ-साथ विपक्षी दल के नेता मल्लिकार्जुन खडग़े और जस्टिस एके सिकरी शामिल थे। जस्टिस सीकरी को चीफ जस्टिस रंजन गोगोई ने अपने प्रतिनिधि के रूप में भेजा था। यह फैसला 2-1 से बहुमत से लिया गया जिसमें खडग़े ने वर्मा को हटाए जाने का विरोध किया था।
आलोक वर्मा को हटाए जाने और डिमोशन को लेकर एक बात और निकलकर आ रही है कि उन्हें पद से हटाया नहीं गया है बल्कि उनका ट्रांसफर किया गया है। आदेश में कहा गया है कि चयन समिति ने आलोक वर्मा की डायरेक्टर सीबीआई की पोस्ट से डायरेक्टर जनरल फायर सर्विस-सिविल डिफेंस एंड होम गार्ड के पद पर ट्रांसफर को मंजूरी दे दी है। वर्मा का कार्यकाल 31 जनवरी, 2019 को समाप्त हो रहा है।
सुप्रीम कोर्ट के वकील और पूर्व आईपीएस अधिकारी डा. अशोक धमीजा ने कहा था कि आलोक वर्मा का सीबीआई डायरेक्टर के पद से ट्रांसफर हुआ है। डीएसपीई एक्ट के एस.4-बी के हिसाब से भी इसे ट्रांसफर ही कहा जाएगा न कि पद से हटाए जाना। अधिकारियों को उनके ट्रांसफर से पहले अपने बचाव का मौका तक नहीं दिया जा रहा है और एस.4-बी के तहत भी उन्हें बचाव का अधिकार नहीं मिलता है। वर्मा का ट्रांसफर सीवीसी रिपोर्ट को देखते हुए हुआ है।

You May Also Like

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *