बीसीसीआई की सिलेक्शन कमेटी फिर से हो सकती है पांच सदस्यीय

नई दिल्ली, (मैट्रो नेटवर्क)। बीसीसीआई की सिलेक्शन कमेटी के एक बार फिर से पांच सदस्यीय होने का रास्ता अब खुलता दिख रहा है। मीडिया में नशर हुई जानकारी के अनुसार सुप्रीम कोर्ट द्वारा इस मसले पर कोर्ट मित्र नियुक्त किए गए गोपाल सुब्रमण्यम ने अपने कमेंट्स में कहा है कि सिलेक्टर्स की संख्या को बढ़ाया जा सकता है।
दरअसल सुप्रीम कोर्ट की बनाई लोढ़ा कमेटी की सिफारिशों के मुताबिक सिलेक्टर्स की संख्या को पांच से घटाकर तीन करने की बात कही गई थी जिसे कोर्ट की बनाई प्रशासकों की समिति यानि सीओए ने लागू करते हुए दो सिलेक्टर्स को कम कर दिया था। यही नहीं कोर्ट मित्र को रेलवे को वोट का आधिकार देने में भी कोई आपत्ति नहीं है। खबर के मुताबिक उनका मानना है कि रेलवे भारत की करीब 90 फीसदी महिला क्रिकेटरों को नौकरी देता है ऐसे में इन खिलाडिय़ों के अधिकारों की सुरक्षा के लिए रेलवे के पास बीसीसीआई को वोट देने का अधिकार होना चाहिए। इसे अपवाद के तौर पर स्वीकार किया जा सकता है। इसके अलावा क्रिकेट क्लब ऑफ इंडिया, नेशनल क्रिकेट क्लब और सर्विसेज और इंडियन यूनिवर्सिटीज को वोटिंग राइट देने के हक में नहीं हैं।
इसके अलावा उन्होंने एक राज्य एक वोट, पदाधिकारियों के कूलिंग ऑफ पीरियड जैसे मसलों पर बीसीसीआई की तमाम यूनिट्स के ऐतराज को खारिज कर दिया है। अब देखना होगा कि सुप्रीम कोर्ट इस मसले पर क्या रुख अपनाता है।

You May Also Like

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *