बच्चों को अगवा कर भीख मंगवाई जा रही, क्या कर रही पुलिस : हाईकोर्ट

चंडीगढ़, (मैट्रो नेटवर्क)। बच्चों को अगवा कर उनसे भीख मंगवाने का मामला पंजाब-हरियाणा हाईकोर्ट के संज्ञान में लाया गया है। हाईकोर्ट ने इस पर कड़ा रुख अपनाते हुए पंजाब को नोटिस जारी कर पूछा है कि इतना सब हो रहा है तो पुलिस और सरकार हाथ पर हाथ रखे क्यों बैठे हैं। चीफ जस्टिस कृष्ण मुरारी एवं जस्टिस अरुण पल्ली की खंडपीठ ने संगरूर के राजेश कुमार द्वारा हाईकोर्ट को भेजी गई शिकायत के आधार पर यह नोटिस लिया है। हाईकोर्ट को बताया गया कि चार वर्षीय बच्ची 28 मार्च से लापता है। एक महीने बाद किसी ने इंटरनेट पर एक बच्ची की फोटो वायरल कर दी थी, जिसमें वह फर्श पर लेटी नजर आ रही थी और उसके पास 10 रुपये के नोट पड़़े थे। फोटो को पहचान बच्चों के माता-पिता ने पुलसि को इसकी जानकारी दी। लेकिन यह फोटो कहां की है और किसने इसे इंटरनैट पर वायरल किया है इसकी जानकारी अभी तक पुलिस को नहीं लग पाई है। इस मामले को लेकर समाचार पत्रों प्रकाशित समाचार पर शिकायतकर्ताओं ने हाईकोर्ट को भेजी शिकायत में कहा है कि इस फोटो से साफ नजर आ रहा है कि बच्ची को जबरदस्ती भिखारी बनाया गया है। तय है कि बच्चों को अगवा कर उन्हें भिखारी बनाने वाले किसी गैंग का काम हो सकता है। अभी तक पुलिस इस चार वर्ष की मासूम बच्चो को तलाशने में नाकाम रही है। अब हाईकोर्ट ने इस मामले में संज्ञान लेकर पंजाब सहित अन्य सभी परतिवादी पक्षों को नोटिस जारी कर जवाब तलब कर लिया है।

You May Also Like

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *