कांग्रेस 1984 के दंगों बारे राजीव गांधी की भडक़ाऊ प्रतिक्रिया के लिए देश से माफी मांगे : ढल्ल

जालन्धर, (मैट्रो ब्यूरो)। वरिष्ठ भाजपा नेता कृष्ण लाल ढल्ल ने मुख्य मंत्री कैप्टन अमरेन्द्र सिंह को उनके इस वक्तव्य पर आड़े हाथों लिया है जिसमें उन्होंने श्रीमती इन्दिरा गांधी की जाघन्य हत्या के बाद भडक़े सिख विरोधी दंगों में राजीव गांधी के किसी भी तरह के रोल को नकारा है और क्लीन चिट दी है। आज जारी एक वक्तव्य में ढल्ल ने कहा कि अमरेन्द्र सिंह ने यह कहकर कि श्रीमती गांधी की हत्या के समय राजीव गांधी दिल्ली से बाहर थे और वह दंगे शुरू हो जाने के एक दिन बाद दिल्ली पहुंचे थे, राजीव गांधी की इस तुरंत भडक़ाऊ प्रतिक्रिया को ओझल किया है कि ‘जब कोई बड़ा पेड़ गिरता तो धरती हिलती ही है’ ढल्ल ने कहा है कि यदि सिख विरोधी दंगों को बढ़ावा देने में अन्य किसी तरह के रोल का संज्ञान न भी लिया जाए तो भी उनकी उपरोक्त प्रतिक्रिया न केवल दंगाइयों को प्रोत्साहन देने वाली थी बल्कि सिक्खों के कतलेआम को एक साधारण और स्वाभाविक प्रतिक्रिया करार देना था। ढल्ल ने कहा कि सिक्ख विरोधी दंगों को भडक़ाने में राजीव गांधी का कोई काल्पनिक या वास्तविक रोल था या नहीं उसकी जांच शायद गृह मंत्री राजनाथ सिंह द्वारा गठित एसआईटी कर लेगी मगर उनके उपरोक्त वक्तव्य बारे तो किसी जांच की ज़रूरत नहीं जिसने जलती में तेल डालने का काम किया था और जो तत्कालीन मीडिया में प्रकाशित हुआ था। ढल्ल ने अपेक्षा की है कि राजीव गांधी की उपरोक्त भडक़ाऊ प्रतिक्रिया के लिए कांग्रेस, उसके अध्यक्ष राहुल गांधी और अमरेन्द्र सिंह जेसे उनके वकील सफाई पूरे देश से विशेष कर सिक्ख भाइचारे से माफी मांगें।

You May Also Like

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *