नालों को ग्रीन बैल्ट में बदेलेंगे और लगेंगे पौधे : सिद्धू

चंडीगढ़, (मैट्रो ब्यूरो)। पंजाब के बड़े शहरों में बहते खुले नालों की समस्या का उचित ढंग से निवारण किया जायेगा और इन नालों को ग्रीन बैल्ट में तबदील किया जायेगा। पंजाब के स्थानीय निकाय मंत्री स.नवजोत सिंह सिद्धू ने यह बात पंजाब सरकार और नेशनल इनवायरनमैंटल इंजीनियरिंग रिर्सच इंस्टीट्यूट (नीरी) के मध्य हुए एक समझौते के दौरान दी। इस समझौते पर पंजाब के स्थानीय निकाय विभाग के प्रमुख सचिव ए.वेनू प्रसाद और नीरी के प्रमुख एवं वैज्ञानिक डा.एस.के गोयल की ओर से हस्ताक्षर किये गये। इस अवसर पर स्थानीय निकाय विभाग, पंजाब के सलाहकार डा. अमर सिंह, डायरैक्टर करनेश शर्मा, सी.ई.ओ. पंजाब म्यूंसिपल इनफ्रास्ट्रक्चर डवल्पमैंट कंपनी (पी.एम्म.आई.डी.सी.) अजय शर्मा और ‘नीरी’ के सीनियर वैज्ञानिक डा.रमन शर्मा भी मौजूद थे। नालों की दयनीय हालत को पंजाब के लिए चिंताजनक बताते हुए स. सिद्धू ने बताया कि ये नाले कई स्थानों पर ढके हुए हैं और इन पर दुकानें बना ली गई थीं जिस कारण इनमें से गार निकालने का कार्य काफ़ी मुश्किल हो गया था। उन्होंने कहा कि राज्य के नालों में औद्योगिक इकाईयां, मरे हुए पशुओं और अन्य इमारती समान और मलबा आदि फेंके जाने के कारण यह ज़हरीला रूप इख्तियार कर गए थे और इस समस्या से निपटने के लिए किसी उचित हल की ज़रूरत थी, जो कि अब ढूंढ लिया गया है।

You May Also Like

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *