फैजाबाद का नाम अब अयोध्या होगा, सरयू के तट पर जले 3.35 लाख दीये

अयोध्या, (मैट्रो नेटवर्क)। अयोध्या में दिवाली के अवसर पर मंगलवार को भव्य समारोह का आयोजन किया गया है। इस कार्यक्रम में दक्षिण कोरिया की प्रथम महिला किम जुंग-सूक ने भी हिस्सा लिया। उनके स्वागत के लिए शहर को खूब सजाया गया है और सडक़ें एवं धरोहर इमारतें रोशनी से नहायी हुई हैं। सरयू के दोनों तटों पर करीब 3.35 लाख दीये जलाये गये।
इस मौके पर उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने फैजाबाद का नाम बदलकर अयोध्या करने की घोषणा की। इलाहाबाद का नाम बदल कर प्रयागराज करने के कुछ ही दिनों बाद उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने मंगलवार को घोषणा की कि फैजाबाद जिला अब अयोध्या के नाम से जाना जाएगा। मुख्यमंत्री ने राज्य की राजधानी लखनऊ से तकरीबन 120 किलोमीटर दूर स्थित इस तीर्थनगरी में कहाकि अयोध्या हमारी ‘आन, बान और शान’ का प्रतीक है। आदित्यनाथ ने कहाकि कोई अयोध्या के साथ अन्याय नहीं कर सकता है। उन्होंने इसके साथ ही कहा कि अयोध्या की पहचान भगवान राम से है। आदित्यनाथ ने दीपावली के अवसर पर आयोजित ‘दीपोत्सव’ में ये बातें कहीं। उन्होंने जिले में भगवान राम के पिता राजा दशरथ के नाम पर एक मेडिकल कॉलेज की स्थापना की भी घोषणा की।
सरयू नदी के घाट पर भगवान राम और भगवान हनुमान की मूर्ति लगाई गई है जबकि मुख्य कार्यक्रम के आयोजन स्थल के पास भव्य तोरण द्वार बनाया गया है। नदी के घाट के पास के मंदिरों को रंग-बिरंगी रोशनियों से सजाया गया है और घाट की सीढिय़ों पर लाखों दीये लगाए गये हैं।

You May Also Like

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *