नवजात बच्ची को कैरीबैग में डालकर बेचने के लिए अस्पताल पहुंचा पिता, गिरफ्तार

चंडीगढ़, (मैट्रो नेटवर्क)। रिश्तों के टूटते डोर का एक और मामला पंजाब के मोहाली शहर में सामने आया है। यहां के सिविल अस्पताल फेज-6 की एमरजेंसी यूनिट में सोमवार रात एक शख्स अपनी नवजात बच्ची को लेकर उसे बेचने पहुंचा। आरोपी ने ड्यूटी पर तैनात डाक्टर से कहाकि वो अपनी नवजात बच्ची को बेचना चाहता है। यह सुनकर वहां मौजूद डाक्टर समेत अन्य लोग भौंचक्के रह गए। डाक्टर ने आरोपी से जब पूछा कि बच्चा कहां है तो उसने अपने साथ लेकर आए पीले रंग के थैले (पॉलीथीन) को डाक्टर को पकड़ा दिया। डाक्टर थैले में बच्ची देखकर चौंक पड़े और उसे फौरन एमरजेंसी रूम में ले गए। यहां बच्ची का मेडिकल चेकअप किया गया। नवजात की हालत खराब थी, वह लगातार उल्टियां कर रही थी। अस्पताल के डाक्टरों ने इस घटना की पुलिस को सूचना दी जिसके बाद पुलिस ने वहां पहुंचकर आरोपी पिता को गिरफ्तार कर लिया।
पुलिस की पूछताछ में पता चला कि आरोपी जसपाल सिंह मोहाली के गांव बल्लोमाजरा के गुरुद्वारा साहब के पास किराए के मकान में रहता है। उसके पहल से दो बेटे हैं। जब उसकी तीसरी संतान बेटी पैदा हुई तो वो उसे एक पॉलीथीन में रखकर बेचने अस्पताल पहुंच गया। आरोपी ने कहा कि ऐसा उसने अपनी पत्नी के कहने पर किया। उसने बताया कि उसकी पत्नी बीमार है जिसके इलाज के लिए उसे पैसों की जरूरत है।
आरोपी जसपाल मोहाली के वीआर मॉल के रिलांयस फ्रेश में लोडिंग का काम करता है। नवजात बच्ची को जरूरी उपचार देने के साथ-साथ ऑक्सीजन लगाई गई है जिसके बाद उसकी हालत फिलहाल स्थिर बताई जा रही है।
जानकारी के अनुसार आरोपी पिता इससे पहले बच्ची को मोहाली के एक बड़े प्राइवेट अस्पताल में भी बेचने के लिए गया था लेकिन उन्होंने उसे वहां से निकाल दिया। फिलहाल पुलिस ने आरोपी पर केस दर्ज कर उसे गिरफ्तार कर लिया है।

You May Also Like

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *