क्रिकेट इतिहास में पहली बार हुआ ऐसा, आउट होकर पवेलियन बैठे बल्लेबाज को अंपायर ने वापस बुलाया

नई दिल्ली, (मैट्रो नेटवर्क)। आपने अभी तक यह ही देखा होगा कि जब कोई बल्लेबाज आउट होकर पवेलियन लाैट जाता है तो वह फिर वापस खेलने के लिए नहीं आता। लेकिन विंडीज-इंग्लैंड के बीच सेंट लूसिय में हो रहे टेस्ट मैच के दाैरान अंपायर ने आउट हुए बल्लेबाज को वापस बुलाकर सबको हैरान कर दिया। दरअसल, हुआ कुछ ऐसा कि जब इंग्लैंड बल्लेबाजी कर रहा था तो पारी के 70वें ओवर में बेन स्टोक्स कैच आउट हो गए। स्टोक्सस ने अल्जारी जोसेफ की आखिरी गेंद पर सामने की तरफ शॉट खेला और जोसेफ ने ही शानदार कैच पकड़ा। उस दाैरान अंपायर ने उन्हें आउट दे दिया जिसके बाद स्टोक्स पवेलियन लाैट गए। मैदान पर नंबर 7 के बल्लेबाज जॉनी बेयरस्टो आ गए परंतु इसी दाैरान जब रीप्ले में दिखा कि जोसेफ ने ओवरस्टेप कर दिया था और ये नो बॉल फेंकी थी। अंपायर ने जब देखा तो उन्होंने ज्यादा देरी ना लगाते हुए बेयरस्टो को वापस भेज दिया और बेन स्टोक्स को फिर बल्लेबाजी करने के लिए क्रीज पर बुला लिया। क्रिकेट इतिहास में ऐसा पहली बार देखने को मिला है जब अंपायर ने किसी टेस्ट क्रिकेट मैच के दाैरान पवेलियन लाैटे बल्लेबाज को वापस खेलने के लिए बुलाया स्टोक्स अब पहले दिन का खेल खत्म होने तक 62 रन बनाकर खेल रहे हैं। टीम का स्कोर 4 विकेट के नुकसान पर 231 पहुंच चुका है। उनके साथ जोस बटलर 67 रन बनाकर खेल रहे हैं। दोनों के बीच 5वें विकेट के लिए 124 रनों की मजबूत साझेदारी हो चुकी है।

स्टोक्स का वापस आने का कारण आईसीसी द्वारा बदला गया एक नियम रहा। साल 2017 में बदले नियम के अनुसार, क्रिकेट के नियम बनाने वाली संस्‍था मेरिलबॉन क्रिकेट क्‍लब ने क्रिकेट आचार संहिता की धारा 31.7 में संशोधन किया था। इसके अनुसार, अंपायर किसी फैसले में दखल दे सकता है अगर उसे यकीन है कि बल्लेबाज किसी गलत तरीके से आउट दिए जाने के बाद मैदान से चला गया है। अंपायर उसे वापस बुलाएगा और ऐसी स्थिति में अंपायर उस गेंद को डेड बॉल करार देगा, जिससे फील्डिंग करने वाली टीम आगे कोई कारवाई ना कर सके। अगली डिलीवरी होन से पहले अंपायर बल्‍लेबाज को किसी भी समय तत्‍काल बुला सकता है, बस वह पारी का आखिरी विकेट न हो। आखिरी विकेट होने पर बल्‍लेबाज को वापस तब ही बुलाया जा सकता है, जब तक अंपायर्स मैदान में माैजूद हों।

You May Also Like

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *