खालिस्तानी संगठन ‘सिख फॉर जस्टिस’ पंजाब में फिर से आतंकवाद फैलाना चाहता है!

चंडीगढ़, (मैट्रो नेटवर्क)। ‘सिख फॉर जस्टिस’ के ट्विटर हैंडल पर सिख युवाओं को तिरंगा जलाने के लिए उकसाया जा रहा है। आपको बता दें कि पाकिस्तानी खुफिया एजेंसी आईएसआई पंजाब में नया फ्रंट खोलना चाहती है। इसके लिए वह लगातार प्रयास कर रही है। खालिस्तानी आतंकवाद के जिन्न को फिर से जिंदा करने के लिए पाक खुफिया एजेंसी खालिस्तानी चरमपंथियों को न केवल हथियार और पैसा दे रही है बल्कि भारत विरोधी प्रचार करने का जिम्मा भी उन्हें सौंपा है। ऐसा ही एक खालिस्तानी संगठन है ‘सिख्स फॉर जस्टिस’ जो अमेरिका के न्यूयार्क से अपनी दुकान चलाता है और भारत विरोधी गतिविधियों में संलिप्त रहता है। रेफरेंडम 2020 नाम का विवादित सोशल मीडिया दुष्प्रचार अभियान शुरू करने के बाद अब इस संगठन ने शांति भंग करने के लिए ‘तिरंगा जलाओ’ अभियान शुरू किया है। इस विवादित अभियान के तहत खालिस्तानी उग्रवादी सिखों को 26 जनवरी तक तिरंगा जलाने के लिए उकसा रहे हैं।
सिख फॉर जस्टिस के ट्विटर हैंडल पर शेयर किए गए एक वीडियो में अमेरिका के न्यूयार्क में रहने वाले डब्ल्यू राणा सिंह नाम के सिख को कहते सुना जा सकता है कि तिरंगे ने सिखों को गुलाम बनाया और इस झंडे वाला देश 1984 के सिख विरोधी दंगों के लिए जिम्मेवार है। वह वीडियो के अंत में खालिस्तान जिंदाबाद के नारे भी लगाता है।
खुफिया रिपोर्ट पर भरोसा करें तो पंजाब में बब्बर खालसा जैसे खालिस्तानी आतंकवादी संगठन भी सक्रिय हैं लेकिन पिछले 2 सालों से न्यूयार्क से अपनी दुकान चला रहा सिख फॉर जस्टिस नाम का खालिस्तानी संगठन पंजाब में आतंकवाद के जिन्न को फिर से जिंदा करने की फिराक में है। सिख फॉर जस्टिस अब तक सिख युवकों को बरगलाने और पंजाब में आतंक फैलाने की कई हरकतें कर चुका है। हालांकि इसे अभी तक कोई बड़ी सफलता नहीं मिली है लेकिन यह भारत विरोधी प्रचार कर रहा है।

You May Also Like

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *