नीरज चंचल ने लगाई मां त्रिपुरमालिनी धाम में हाजिरी

जालन्धर, (सोनू शर्मा)। 51 शक्तिपीठों में से एक पंजाब के एकमात्र शक्तिपीठ विश्वमुखी माँ त्रिपुरमालिनी धाम, श्री देवी तालाब मंदिर जालन्धर में होने वाली साप्ताहिक चौकियों की श्रृंखला में 450वीं चौकी में नीरज चंचल कैथल वालों ने अपने साथियों के साथ गुणगान कर माहौल को भक्तिमय बनाया।
इस अवसर पर संयुक्त सचिव अश्वनी गुप्ता, लेखक बलबीर निर्दोष, बलदेव आनंद, पवन मेहता, राजू शर्मा, अर्जुन मल्होत्रा, अरुण वर्मा, रमन शर्मा, इंदरजीत सिंह राही, भूषण कोहली, राकेश बिल्ला, राज कुमार दीवान, शादी लाल धीर, टोनी मरवाहा, जगमोहन सिंह खोसला, दीपक झांजी, अजय लाली, नीरज मित्तल, इंदर मोहन सिंह, सुमित कश्यप, सुनील कुमार, विनय आर्य, प्रदीप पुजारी, कुलदीप भाटिया, अजय भारद्वाज, भारत भूषण बजाज, नीटू चोपड़ा, राजेश वासल, सोहन लाल, हर्ष महाजन, रमेश भाटिया, मनीष शर्मा, तुषार, सौरव, रीटा शर्मा, रोजी खोसला, पूनम आनंद, सुनीता कालरा, सीता बांसल, ज्योति झांजी, रीमा मरवाहा, आशा बाहरी, सोनिया खोसला, उर्मिला शर्मा, वीना, रितु , रमा, अंजू शर्मा, ऋतु झांजी, अनिता, मीनाक्षी नारंग व अन्य उपस्थित थे।
इस मौके पर नीरज चंचल ने कुछ इस तरह से माता का गुणगान किया :
मैं तेरे बिन रह नहीं सकदा, मैंनू तेरी आदत पै गई है
किन्ना तेरे जागेयां च मैं जागेया चन्न कोलो पूछ लै
ओ देवो के राजा गणपति महाराजा
जदो माँ मेहरा करदी है खजाने लाल वंडदी है
लक्खा नू दे के भूल जांदी है मेरी माँ नू गिनती नहीं आंदी
मेरी माई दीयां गलियां दे नजारे सोहने
जय जयकार सारे माँ दी गज्ज के बुला देयो
स्वर्गा तों सोहना तेरा द्वार माए नी हत्थ जोड़ खड़े
जय मैया त्रिपुरमालिनी बोलो जय मैया त्रिपुरमालिनी।

You May Also Like

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *