क्रैश होकर समुद्र में गिरा विमान, 188 लोग थे सवार

जकार्ता, (मैट्रो नेटवर्क)। इंडोनेशिया में एक प्लेन क्रैश में 188 लोगों के मारे जाने की आशंका है। प्लेन के टेक ऑफ करते ही हादसा हुआ है और प्लेन क्रैश होकर टुकड़ों में बिखर गया। इंडोनेशिया की सर्च एंड रेस्क्यू एजेंसी ने सोमवार को कहाकि जकार्ता से पंगकल पिनॉन्ग जा रही लॉयन एयर पैसेंजर फ्लाइट समुद्र में क्रैश हो गई है। एजेंसी के प्रवक्ता युसुफ लतीफ ने कहा कि फ्लाइट क्रैश हो गई है, इस बात की पुष्टि की जा चुकी है। मीडिया में नशर हुई जानकारी के अनुसार विमान ने टेकऑफ के 13 मिनट बाद ही सम्पर्क खो दिया था। यह एक बोइंग 737 मैक्स 8 विमान था।
विमान का मलबा समुद्र में जाकार्ता के पास मिला है। जिस वक्त हादसा हुआ उस समय विमान में 188 लोग सवार थे जिनमें से 178 वयस्क, 1 बच्चा, 2 नवजात, 2 पायलट और 5 फ्लाइट अटेंडेंट शामिल हैं। इंडोनेशिया ट्रांस्पोर्ट मिनिस्ट्री के अधिकारी ने कहाकि लॉयन एयर फ्लाइट में क्रू मैम्बर समेत 188 लोग सवार थे।
इंडोनेशिया की आपदा एजेंसी के प्रवक्ता सुतोपो पूर्वो नुग्रोहो ने हादसे का शिकार हुए विमान की कुछ तस्वीरें ट्विटर पर डालीं जिनमें बुरी तरह टूट चुका एक स्मार्टफोन, किताबें, बैग, विमान के कुछ हिस्से दिख रहे हैं। दुर्घटना की जगह तक पहुंचे खोजी एवं बचाव पोतों ने यह सामान इक_ा किए हैं।
लॉयन एयर ग्रुप चीफ एग्जिक्यूटिव एडवर्ड सिरैट ने कहा कि हम इस समय कोई बयान नहीं दे सकते हैं। हम पूरी जानकारी और डेटा निकालने के प्रयास में लगे हैं।
राष्ट्रीय तलाश और बचाव एजेंसी (एनएसआरए) ने कहा कि पश्चिम जावा के पास समुद्र में यह विमान गिरा। यह जगह 30-35 मीटर (98-115 फुट) गहरी है।
एनएसआरए के प्रमुख मुहम्मद स्याउगी ने संवाददाता सम्मेलन में बताया कि गोताखोर विमान के पूरे मलबे का पता लगाने की कोशिश कर रहे हैं।
बोइंग 737-800 विमान सुबह 6 बजकर 20 मिनट पांगकल पिनांग के लिए जकार्ता से रवाना हुआ था। विमान की स्थिति पर नजर रखने वाली वेबसाइट ‘फ्लाइटअवेयर’ पर ‘फ्लाइट 610’ से संबंधित सूचना इसके उड़ान भरने के कुछ ही देर बाद नजर आनी बंद हो गई।
दिसंबर 2014 में एयरएशिया के एक विमान के दुर्घटनाग्रस्त होने के बाद यह इंडोनेशिया में सबसे बड़ा विमान हादसा है। एयरएशिया का विमान दुर्घटनाग्रस्त होने पर उसमें सवार सभी 162 लोग मारे गए थे।
जकार्ता तलाश और बचाव दफ्तर ने अपनी रिपोर्ट में एक नौका के चालक दल के सदस्यों का हवाला दिया है। दरअसल इस नौका के चालक दल के सदस्यों ने ही लायन एयर के विमान को आसमान से गिरते देखने पर इस बारे में सूचित किया था।
‘लायन एयर’ इंडोनेशिया के सबसे बड़े एयरलाइनों में से एक है जिसके दर्जनों विमान देश-विदेश की जगहों के लिए उड़ान भरते हैं। साल 2013 में लायन एयर का एक बोइंग 737-800 विमान बाली में उतरते वक्त रनवे से फिसलकर समुद्र में चला गया था। हालांकि इस घटना में विमान में सवार 108 लोगों में से किसी को कोई नुकसान नहीं हुआ था।

You May Also Like

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *