पंजाब पुलिस एफआईआर और जनरल डायरी करेगी ऑनलाइन

चंडीगढ़, (मैट्रो ब्यूरो)। पंजाब पुलिस कानून व्यवस्था की ताजा चुनौतियों से निपटने के लिए डिजिटलाइजेशन के मैदान में कूद गई है। इसके तहत सोमवार को पंजाब के सीएम कैप्टन अमरिंदर सिंह ने अपराध व अपराधियों का सुरगा लगाने के लिए क्राइम एंड क्रिममिनल ट्रैकिंग नेटवर्क एंड सिस्टम की शुरूआत की। पंजाब के पुलिस प्रमुख सुरेश अरोड़ा के नेतृत्व में राज्य पुलिस ने गैंगस्टरों और अपराधियों की बढ़ रही धमकियों से निपटने के लिए सोशल मीडिया पर अपना खाता खोलकर जवाबी कार्रवाई के लिए तैयारी कर ली है। अब सीसीटीएन गो लाइव से राज्य में पुलिस थानों का सारा काम पेपरलेस होने का रास्ता साफ हो गया है। अब पुलिस कर्मचारियों द्वारा एफआईआर और जनरल डायरी आनलाइन अपलोड की जाएगी। इसके ळिए उन्हें जल्द टैबलेट मुहैया करवाए जाएंगे। इस पहल के लिए मुख्यमंत्री ने पुलिस को बधाई देते कहा कि इसमें पंजाब अब देश के उन चंद राज्यों में शामिल हो जाएगा, जो सीसीटीएनएस का प्रयोग करते हैं। वहीं 13 साल पुराना डाटा का पहले ही इस प्रोजेक्ट के हिस्से के तौर पर डिजिटलकरण कर यिा है। मुख्यमंत्री ने सीसीटीएनएस के जरिए सफलता प्राप्त करने वालों को उचित सम्मान देने के निर्देश दिए हैं। मुख्यमंत्री ने कहा कि पुलिस की सोशल मीडिया मुहिम से जहां पुलिस और लोगों के बीच दूरियाँ मिटेंगी, वहीं राज्य में दहशत फैलाने के लिए गैंगस्टरों और अपराधियों द्वारा सोशल मीडिया पर की जाने वाली बदजुबानी पर भी नकेल डाली जाएगी। मुख्यमंत्री ने पुलिस को सोशल मीडिया की पहुंच समाज के विभिन्न वर्गों, विशेष तौर पर नौजवान वर्ग तक बनाने का आहवान किया ताकि पुलिस के कामकाज को ओर अधिक पारदर्शी, संवेदनशील और असरदार बनाया जा सके। उन्होंने कहा कि अमन कानून की स्थिति से प्रभावी ढंग से निपटने, अपराध को रोकने एवं जांच और पुलिस के अन्य पहलुओं के लिए सोशल मीडिया बहुत सहायक हो सकता है।

You May Also Like

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *