स्वच्छता मानव समुदाय का एक आवश्यक गुण : स्वामी सज्जनानंद

जालन्धर, (मैट्रो नेटवर्क)। दिव्य ज्योति जाग्रति संस्थान द्वारा चलाए जा रहे पर्यावरण संरक्षण अभियान के चौथे चरण में संस्थान द्वारा गुरू गोबिद सिंह एवेन्यू में पौधारोपण के साथ-साथ सफाई अभियान भी शुरू किया गया, जिसमें स्वामी स्वामी उमेशानंद जी, सज्जनानंद जी, स्वामी सुचेतानंद जी, रमेश, प्रभजीत, पवन, हरप्रीत, लवजिन्द्र, लवली कौशल, कमल कुमार, कमल कुमार, विक्रम, मुनीश कुमार, गिरिजा शंकर, प्रीतम कुमार, शंकर गुप्ता, मिथुन कुमार, अरविन्द कुमार, दीपक कुमार, नवजीत कुमार, गोबिन्द, अमित कुमार, सुखजिन्द्र बढ़-चढक़र अपना योगदान दिया। स्वामी सज्जनानंद जी ने पौधारोपण करते हुए कहा कि हमारे महापुरुषों ने जिस भारत का सपना देखा था उसमें सिर्फ अध्यात्मिक,सामाजिक राजनीतिक आ•ाादी ही नहीं थी, बल्कि एक स्वच्छ एवं विकसित देश की कल्पना भी थी। देशभक्तों ने तो गुलामी की जंजीरों को तोडक़र मां भारती को आ•ााद कराया। अब हमारा कत्र्तव्य है कि गंदगी को दूर करके भारत माता की सेवा करें।  मैं शपथ लेता हूं कि मैं स्वयं स्वच्छता के प्रति सजग रहूंगा और उसके लिए समय दूंगा। स्वच्छता मानव समुदाय का एक आवश्यक गुण है। यह विभिन्न प्रकार की बीमारियों से बचाव के सरलतम उपायों में से एक प्रमुख उपाय है। यह सुखी जीवन की आधारशिला है। इसमें मानव की गरिमा, शालीनता और आस्तिकता के दर्शन होते हैं। स्वच्छता के द्बारा मनुष्य की सात्विक वृद्धि को बढ़ावा मिलता है।

You May Also Like

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *