अब नशे के खिलाफ मुहिम चलाएगी एसजीपीसी

कमेटी प्रधान भाई गोबिंद सिंह लौंगोवाल पद संभालने के बाद गुरुद्वारा दुख निवारण साहिब में नतमस्तक होने पहुंचे

लुधियाना, (मैट्रो नेटवर्क)। शिरोमणि गुरुद्वारा प्रबंधक कमेटी के प्रधन भाई गोबिंद सिंह लौंगोवाल पद संभालने के बाद पहली बार गुरुद्वारा दुख निवारण साहिब में नतमस्तक होने के लिए पहुंचे। गुरुद्वारा दुख निवारण साहिब के मुख्य सेवादार व दोआबा जोन के इंचार्ज प्रीतपाल सिंह ने गुरुद्वारा साहिब की प्रबंधक कमेटी की तरफ से एसजीपीसी प्रधान भाई गोबिंद सिंह लौंगोवाल, धर्म प्रचार कमेटी के सचिव बलविंदर सिंह जौड़ा व दर्शन सिंह का सिरोपा भेंट कर सम्मान किया। एसजीपीसी प्रधान गोबिंद सिंह लौंगोवाल ने पत्रकारों से बात करते हुए कहा कि नशे ने आज पंजाब को हिला कर रख दिया है। पंजाब सरकार नशे को नकेल डालने में बुरी तरह फ्लाप साबित हुई है। उन्होंने कहा कि एसजीपीसी नशे के खिलाफ पंजाब भर में विशेष मुहिम चलाएगी। नशों को कंट्रो करने के मामले में कैप्टन सरकार के दावे केवल राजनीतिक पाखंडबाजी है। बरगाड़ी कांड के बारे में उन्होंने कहा कि श्री गुरु ग्रंथ साहिब जी की बेअदबी चाहे बरगाड़ी में हो या कहीं और पर वह बहुत ही दुख की बात है। जिस दिन से पंजाब में कैप्टन अमरेन्द्र सिंह की सरकार बनी है, उस दिन से यह बेअदबी की घटनाएं बढ़ी हैं। जिसको सख्ती से रोकने के लिए सरकार का कदम उठाने चाहिए। 1984 में श्री दरबार साहिब से देश की फौज द्वारा अहम दस्तावेज अपने कब्जे मे लेने के बारे में पूछे सवाल के जवाब में लौंगोवाल ने बताया कि एसजीपीसी पिछले लम्बे समय से ही यह प्रधानमंत्री , रक्षा मंत्री व फौज मुखी से यह मांग करते आ रहे हैं कि यह अहम दस्तावेज सम्मान सहित वापस किए जाएं।

You May Also Like

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *