मस्जिद पर हमला करने वाला है ट्रंप का फैन, गोरे रंग को देता है तवज्जो

क्राइस्टचर्च, (मैट्रो नेटवर्क)। न्यूजीलैंड के क्राइस्टचर्च की अल नूर मस्जिद में शुक्रवार को एक बंदूकधारी हमलावर ने अंधाधुंध गोलियां चलाकर करीब 40 लोगों को मौत के घाट उतार दिया। इस हमले में 48 से अधिक लोग घायल हो गए। जिस वक्त यह हमला हुआ मस्जिद श्रद्धालुओं से भरी हुई थी। हमला होते ही वहां अफरा-तफरी मच गई। मीडिया के मुताबिक ब्रेंटन टैरेंट नाम के 28 वर्षीय युवक ने मस्जिद पर हमला किया था। वह आस्ट्रेलिया का रहने वाला है। हमलावर ने इस हमले से पहले एक सनसनीखेज मैनिफेस्टो ‘द ग्रेट रिप्लेसमेंट’ लिखा था। इस मैनिफेस्टों में उसने आतंकी हमलों में यूरोपीय नागरिकों की जान जाने का बदला लेने की बात कही है। इसके साथ ही उसने अप्रवासियों को बाहर निकालकर व्हाइट सुप्रीमेसी कायम करने की बात कही है।
मीडिया में नशर हुई जानकारी के मुताबिक हमलावर अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप का फैन है। वह ट्रंप को गोरों की नई पहचान और साझा उद्देश्य के लिए प्रतीक भी मानता है। साथ ही हमलावर को व्हाइट सुप्रीमेसी की सनक भी है। हमला करने से पहले उसने लिखा, ‘अटैक करने वालों को दिखाना है कि हमारी भूमि कभी उनकी नहीं होगी। जब तक एक भी गोरा व्यक्ति रहेगा, वे कभी जीत नहीं पाएंगे।’
मैनिफेस्टो में हमलावर ने खुद को साधारण गोरा बताया है। उसका कहना है कि है उसके माता-पिता ब्रिटिश मूल के हैं। उसने गोरे लोगों की संख्या बढ़ाने की बात कही है। उसका कहना है कि हमारी फर्टिलिटी रेट कम है जबकि बाहर से आए प्रवासियों की फर्टिलिटी अधिक है। एक दिन वे गोरों से उनकी जमीन छीन लेंगे।

You May Also Like

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *