वेदों का सार युगों-युगों से मनुष्य तक पहुंच रहा है : साध्वी भाग्यश्री

जालन्धर, (मैट्रो सेवा)। राधा कृष्ण भागवत परिवार व दिव्य ज्योति जाग्रति संस्थान द्वारा मस्त राम पार्क ,माई हीरा गेट में आयोजित में सात दिवसीय भागवत कथा का आयोजन किया गया है। कथा के पहले दिन शुभारंभ श्री राम देव वर्मा परिवार यजमानों द्वारा पूजन से किया गया। इसके उपरान्त दिव्य ज्योति जाग्रति संस्थान से परम पूजनीय सर्व श्री आशुतोष महाराज जी की शिष्या महामनस्विनी साध्वी सुश्री भाग्यश्री भारती जी ने श्री मद्भागवत कथा का महात्मय बताते हुए कहा कि वेदों का सार युगों- युगों से मानव जाति तक पहुँचता रहा है। भागवत महापुराण यह उसी सनातन ज्ञान की पयस्विनी है जो वेदों से बहकर चली आ रही है। इसी लिए भागवत महापुराण को वेदों का सार कहा गया हैं। साध्वी जी ने श्री मद्भागवत महापुराण की व्याखया करते हुए कहा कि श्री मद्भागवत अर्थात जो श्री से युक्त है, अर्थात् चैतनय, सौन्दर्य, ऐश्वर्य। भाव कि वो वाणी, वो कथा जो हमारे जड़वत जीवन में चैतन्यता का संचार करती है। कथा के दौरान साध्वी सुश्री भगवती भारती ,सतिंंदर भारती ,हरिता भारती ,त्रिपुंड धारणी भारती ,सोनिया भारती ,स्वामी कुलवीरा भारती जी , ने मधुर भजनों के माध्यम से श्रद्धालुओं को भाावविभोर कर दिया। कथा के दौरान अवतार हैनरी (पूर्व मंत्री, पंजाब सरकार), राधा कृष्ण भागवत परिवार के सदस्यों और स्वामी सज्जनानंद जी ने दीप प्रजवलन की रस्म को अदा किया। इस अवसर पर प्रभु भक्तों सहित पंडित गिरधारी लाल ,पंडित ज्योति प्रकाश, हेमराज (भक्ति भवन), रमेश महेन्द्रू (अलफा महेन्द्रू फाउंडेशन), डा वनीत शर्मा, सलिल बाहरी (पार्षद), नीरू कपूर (माता तारा देवी मंदिर), अवनीप डओरा और राधा कृष्ण भागवत परिवार के कार्यकारिणी चेयरमैन नरेश गुप्ता जी प्रधान , रजिंद्र महासचिव ,राकेश गुप्ता सीनीयर वाईस प्रधान ,वजय चड्ढा वाइस प्रधान, वरिंद्र मोहन संयुक्त सचिव, हतिंद्र तलवार कोषायक्ष सुनील बेरी के साथ मुख्य सदस्य नलिन सूरीह, ब्रिज मोहन, यशपाल, रूबी बब्बर, विक्रम जैन, अश्विनी कुमार खन्ना, पप्पू चड्ढा आदि उपस्थित थे।

You May Also Like

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *