गुरुवार को जालन्धर में खूब गरजे ‘गुरु’

स्थानीय निकाय मंत्री नवजोत सिद्धू के अवैध निर्माण पर तल्ख तेवर स्पष्ट दिखे, खुद उतरे ग्राऊंड पर, अवैध कालोनियों को जांचा, अधिकारियों को चोर तक कह डाला, बोले ‘गंद पा रखिया ए’,
जालन्धर,  (मैट्रो ब्यूरो/अजय शर्मा)। गुरु आज जालन्धर में खूब गरजे। माना जा रहा है कि वह बरसेंगे भी और नगर निगम के कई अधिकारियों को नौकरी के लाले तक पड़ जायेंगे। पिछले कुछ दिनों से जालन्धर में अवैध निर्माणों की खबरें मीडिया में सुर्खिया थी और ऐसी आशा की जा रही थी कि अमृतसर में पांच एटीपीज़ को सस्पेंड करने के बाद निकाय मंत्री नवजोत सिद्धू जालन्धर का रूख भी अवश्य करेंगे। गुरुवार की सुबह गुरु जालन्धर के प्रवेश द्वार स्थित हवेली रिसोर्ट में आ पहुंचे और उन्होंने सभी एटीपी, एमटीपी, एसटीपी
और निगमायुक्त वहां तलब कर लिए। सूचना मिलते ही नगर निगम में हंडकम्प बच गया और अवैध निर्माण करने वालों के भी तोते उड़ गए। मीडिया फौज भी हवेली के बाहर जा डटी। उस समय नवजोत सिद्धू के साथ उनके प्रिय विधायक जालन्धर छावनी के परगट सिंह थे। यहां सिद्धू ने सभी अफसरों को झाड़ पिलाई और वहीं से जालन्धर में अवैध निर्माणों और अवैध कालोनियों की जांच के लिए निकल पड़े। नवजोत सिद्धू की इस मूवमैंट ने नायक फिल्म के अनिल कपूर का सा दृश्य पेश किया। गौरतलब है कि जालन्धर में अवैध रूप से निर्माण धड़ल्ले से हो रहे है और नगर निगम के अधिकारी भ्रष्टाचार से मौज कर रहे है। डिप्टी मेयर द्वारा स्थानीय बस अड्डे के सामने 150 अवैध दुकानों के निर्माण की शिकायत के बावजूद कोई कार्रवाई नहीं की गई। सिद्धू ने अपना अभियान शुरू करते ही विधायक बावा हैनरी और राजेन्द्र बेरी के निर्वाचन क्षेत्रों का रूख किया और यहां हुए अवैध निर्माणों की जानकारी ली। विधायक परगट ङ्क्षसह की कार में बैठकर उन्होंने रामामंडी के तहल्ण रोड पर एक कांग्रेसी कौंसलर की अवैध कालोनी देखी, इसके बाद थ्री स्टार कालोनी का मुआयना किया फिर डब्ल्यू जे ग्रैंड होटल का निरीक्षण किया। बताया जा रहा है कि यह होटल अवैध तरीके से बनाया जा रहा है। सिद्धू बस स्टैंड के पास बन रही दुकानों को भी देखने गए और यहां उन्होंने एसटीपी परमपाल सिद्धू से जवाब तलबी की। यह जवाब मिलने पर की उनके पास कोई पॉवर नहीं है और सारा काम एमटीपी मेहरबान सिंह करते है तो नवजोत सिद्धू मौके पर ही मेहरबान सिंह और बलविंदर सिंह की क्लास ली। उन्होंने स्पष्ट कहा कि इस गैर जिम्मेदारी व कोताही के लिए अफसरों पर अवश्य कार्रवाई होंगी। सिद्धू ने कहा कि वह भ्रष्टाचार कभी बर्दाश्त नहीं करेंगे। बताया जा रहा है कि यहां दुकानें बनाने वाले लोग पहुंचे और उन्होंने बताया कि एक नेता के कहने पर यह दुकानें बनी है। सिद्धू मास्टर तारा सिंह नगर स्थित अकाली नेता इकबाल ङ्क्षसह ढींडसा की विरासत हवेली में भी गए और जांच की। यह हवेली सील की गई थी, लेकिन निगम कमिश्नर के आदेश के बाद खोल दी गई थी। विधायक सुशील रिंकू के निर्वाचन क्षेत्र वेस्ट हलका में भी सिद्धू गए तथा अवैध कालोनियों और अवैध निर्माण को जांचा। यहां गुरसंत नगर में एक कालोनी के गेट को बंद देखकर सिद्धू ने गेट तुड़वा दिया और अवैध कालोनी का जायजा लिया। यहां अवैध रूप से फ्लैट भी बन रहे थे। जानकारी मिली है कि यहां एक जिम्मेदार अधिकारी ने कहा कि यह सब अधिकारियों की मर्जी से हो रहा है। यहां सिद्धू ने यहां तक कह दिया कि सभी अवसर चोर है और शहर में गंद डाल रखा है। इसके बाद सिद्धू परगट सिंह के इलाके में गए और मॉडल टाऊन में हो रहे अवैध निर्माणों को देखा इससे सिद्धू और गुस्सा गए। सिद्धू ने यहां भी अफसरों को झाड़ पिलाई। परगट सिंह ने यहां तक मांग कर डाली की मॉडल टाऊन में अवैध निर्माण करवा रहे अधिकारियों को तुरंत सस्पेंड किया जाए। पता चला है कि मौखिक रूप से सिद्धू ने इन अधिकारियों के निलंबन के आदेश जारी कर दिए है। लिखित आदेश कभी भी आ सकते हैं।

You May Also Like

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *